Elaichi Ke Fayde aur nuksan- Cardamom Benefits

Cardamom

'इलाइची' in English- Elaichi In English
छोटी सी इलायची के फायदे (Elaichi Ke Fayde) बहुत होते हैं। इलायची खाने के फायदे (Elaichi Khane Ke Fayde) की हम बात करें तो इलायची में बहुत सारे औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो हमें कई सारी गंभीर बीमारियों से बचाते है।
Elaichi Ke Fayde aur nuksan
image: Pixabay

क्या है इलायची – What Is Cardamom in Hindi

इलायची हर घर मे पायी जानेवाली बहुत छोटी सी चीज है।यह बहुत से घरों मे आसानी से मिल जाती है। हर ग्रहणी के दिन की शुरुआत इलायची के साथ होती है। जब हमे सुबह के चाय मे इलायची का स्वाद मिलता है, तब वह स्वाद दो गुना हो जाता है। 

इलायची मे गुणो की कमी नहीं है इसके सेवन से पाचन सही रहता है,मुंह की दुर्गंध को कम करता है, एनेमिया को भी कम करता है। इलायची मे बहुत से पोषक तत्व पाये जाते है। जैसे की आयरन, विटामिन, केल्शियम, पोटेशियम, नियासीन, मेग्नेशियम आदि । प्रति १००ग्राम(100) इलायची मे ३११कैलोरि(cal) होती है।

आमतौर पर इलायची दो तरह की होती है काली और हरी। हरी इलायची (Hari Elaichi) का उपयोग जहां पूजा-पाठ और व्यंजनों में किया जाता है, तो वहीं मोटी काली इलायची को मसाले के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आइये जानते हैं हरी इलायची के फायदे (Cardamom Benefits) बता रहे हैं।

इलायची एक मसाला है, जो जिन्जिबरेसी परिवार से संबंधित कई पौधों के बीज होते हैं। 

भारत, भूटान, नेपाल और इंडोनेशिया को इलाचयी का मूल क्षेत्र माना जाता है। इलायची की फलियां छोटी होती हैं और इसका आकारा थोड़ा त्रिकोणीय रूप में होता है। 

आपको बता दें कि इलायची को मसालों की रानी कहा जाता है और यह दुनिया का तीसरा सबसे महंगा मसाला है। सिर्फ इतना ही नहीं यह कई प्रकारों में उपलब्ध है।

इलायची के प्रकार (Types of Cardamom)
हरी इलायची
बड़ी इलायची
काली इलायची
भूरी इलायची
नेपाली इलायची
बंगाल इलायची या लाल इलायची

इलायची में निम्नलिखित औषधीय गुण मौजूद होते है –
1. आयरन
2. कैल्सियम
3. पोटेशियम
4. मैग्नीशियम
5. नियासिन
6. विटामिन C
7. रिबोप्लेविन

Elaichi Ke Fayde - Cardamom Benefits

अगर आप रोजाना सुबह उठकर इलायची में उबाला हुआ पानी पीओगे तो इसे पीने से आपकी ढेरों बीमारियों का इलाज एक साथ हो सकेगा। 

जहां इलायची मुंह की दुर्गंध को दूर करने का काम करती है, वहीं इसका पानी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। इससे एक नहीं बल्कि कई बीमारियां दूर होती है साथ ही ये आपकी सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक है।

हरी इलायची को हम केवल मुंह साफ करने वाले मसाले के तौर पर जानते हैं। हमारी रसोई में यह हमेशा विद्यमान रहती है। 

इसके कुछ फायदों के बारे में भले ही हमें जानकारी हो लेकिन क्या हम जानते हैं कि दूध और इलायची के संयोग से एक सशक्त वाजीकरण नुस्खा तैयार होता है।

मुंह की बदबू होती है दूर : सभी जानते हैं कि इलायची खाने से मुंह की बदबू दूर होती है लेकिन क्या यह सोचा है कि मुंह से बदबू क्यों आती है। 

दरअसल पेट खराब होने के कारण मुंह से बदबू आने लगती है। हरी इलायची खाने से पेट का हाजमा ठीक होता है साथ ही इसमें मौजूद एक ताकतवर एंटीबैक्टेरियल रसायन की वजह से मुंह की बदबू भी खत्म होती है।


Elaichi Khane Se Kya Hota Hai

इलायची का इस्तेमाल सिर्फ जायका बढ़ाने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इसका प्रयोग पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने से लेकर कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के खतरे को कम करने के लिए किया जा सकता है। नीचे जानिए कि कौन-कौन सी शारीरिक समस्याओं के लिए इलायची का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Elaichi Ke Fayde In Hindi - Cardamom Benefits For Health

Elaichi Ke Fayde aur nuksan
image: Pixabay

पाचन स्वास्थ्य में सुधार

इलायची में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। एक भारतीय अध्ययन के अनुसार, इलायची का उपयोग पाचन तंत्र को बेहतर करने के लिए किया जा सकता है। 

साथ ही यह मेटाबॉलिज्म को उत्तेजित कर सकती है। इसका प्रयोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारियों जैसे दस्त व गैस आदि के रोकथाम के लिए भी किया जा सकता है। 

पेट की समस्याओं से निजात पाने का यह एक सटीक घरेलू उपाय है।

हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा

जैसा की हमने पहले भी बताया कि इलायची एंटीऑक्सीडेंट गुण से समृद्ध होती है। इसका यह गुण हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है। 

इसमें फाइबर भी मौजूद होता है, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर हृदय को फायदा पहुंचा सकता है।

दिल की सेहत की बात करें, तो काली इलायची हरी इलायची की तुलना में ज्यादा कारगर तरीके से काम कर सकती है, क्योंकि यह मेटाबॉलिक सिंड्रोम पर ज्यादा प्रभावी रूप से काम कर सकती है। साथ ही इस्केमिक हृदय रोग (रक्त प्रवाह में कमी के कारण होने वाली बीमारी) से पीड़ित रोगियों पर किए एक अध्ययन में इलायची फायदेमंद पाई गई है।

अस्थमा का इलाज

इलायची अस्थमा के मरीजों के लिए भी फायदेमंद हो सकती है। यह अस्थमा के लक्षण जैसे खांसी, सांस लेने में तकलीफ और सीने में जकड़न आदि को समाप्त कर सकती है। 

इलायती रक्त संचालन में मदद कर सांस लेने की प्रक्रिया को आसान बनाती है। इसके अलावा, यह बलगम झिल्ली (mucous membrane) को आराम पहुंचा कर दर्द व सूजन की समस्या को भी कम करती है।

इलायची पर हुए एक अध्ययन के अनुसार, हरी इलायची अस्थमा के साथ-साथ ब्रोंकाइटिस और अन्य सांस संबंधी समस्याओं का इलाज कर सकती है।

Elaichi Khane Ke Fayde - Cardamom Benefits Health

दिमाग मजबूत करे

दिमाग मजबूत करने, आंखों की रोशनी बढ़ाने व याद्दाश्त बढ़ने में इलायची बहुत मददगार है. इलायची के दानों को 2-3 बादाम व 2-3 पिस्ता के साथ 2-3 चम्मच दूध डालकर पीस लें. अब 1 गिलास दूध में इसे मिलाकर आधा होने तक गाढ़ा करें. फिर इसमें मिश्री मिलाएं और खाएं. ये बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

मुंह का संक्रमण दूर करे

मुहं की दुर्गंध, किसी तरह का संक्रमण, अल्सर इन सब से इलायची बचाता है. सांसों में बदबू से बचने के लिए रोज इलायची खाएं.

बदहजमी

यदि केले अधिक मात्रा में खा लिए हों, तो तत्काल एक इलायची खा लें. केले पच जाएंगे और आपको हल्कापन महसूस होगा.

खराश

यदि आवाज बैठी हुई है या गले में खराश है, तो सुबह उठते समय और रात को सोते समय छोटी इलायची ( Elaichi / cardamom) चबा-चबाकर खाएं और गुनगुना पानी पिएं.

उल्टी

बड़ी इलायची पांच ग्राम लेकर आधा लीटर पानी में उबाल लें. जब पानी एक-चौथाई रह जाए, तो उतार लें. यह पानी पीने से उल्टियां बंद हो जाती हैं.

Elaichi Ke Fayde Hindi Me

हिचकी बंद करे

इन्सान को कभी भी अचानक हिचकी आने लगती है| इसकी कोई दवाई तो नहीं आती है| कुछ नेचुरल तरीके से बंद किया जा सकता है| 

कई बार ये बहुत देर तक लगातार आती है जिससे परेशानी महसूस होती है| इसे बंद करने के लिए बीएस आपको 1 इलायची मुहं में दबानी है| 

इसे चबाते रहिये कुछ देर में हिचकी गायब हो जाएगी|

ब्लडप्रेशर कंट्रोल

इलायची में ब्लडप्रेशर कंट्रोल करने की भी क्षमता होती है, इसमें पोटेशियम, फाइबर होता है जो ब्लडप्रेशर कंट्रोल करता है| ब्लडप्रेशर के मरीज को खाने के बाद इलायची का सेवन जरुर करना चाहिए|

तनाव मुक्त

अगर आपको किसी बात की चिंता है, या बिना बात के आप अकेलापन महसूस कर रहे है, लगातार ऐसा होने से आप डिप्रेशन का शिकार हो जाते है| तनाव मुक्त रहने के लिए इलायची बहुत मदद करती है| इलायची चबाने या इलायची वाली चाय पीने से हार्मोन 

safed elaichi ke fayde


शरीर के विषाक्त को बाहर निकाले

शरीर की बाहरी सफाई के साथ शरीर को अंदर से डिटॉक्सीफाई करना भी बेहतद जरूरी होता है। और इलायची में वो सारे गुण होते हैं जो शरीर को डिटॉक्सीफाई कर सके। 

इसके सेवन से शरीर में मौजूद सभी विषैले व व्यर्थ पदार्थ किडनी से बाहर निकल जाते हैं।

दांतों के लिए लाभदायक

इलायची चबाने से आपके मुंह की दुर्गंध दूर होती है लेकिन अगर आप इसके पानी का सेवन करते हैं तो आप सांसों की बदबू के साथ-साथ मुंह के छाले व गले के संक्रमण में भी काफी हद तक आराम मिलता है।


बॉडी डिटॉक्स करता है

इलायची का पानी बॉडी को डिटॉक्सीफाई करने का एक बेहतर तरीका है। रोजाना इसके सेवन से आपके शरीर के सभी विषाक्त पदार्थ फ्लश आउट हो जाते हैं और आप काफी बेहतर महसूस करते हैं।

सर्दी खरास में राहत पाए

इलायची के सेवन से सर्दी खरास की समस्या से राहत पा सकते है, सर्दी होने पर गले में भी अजीब सी खरास हो जाती है, इस समस्या से राहत पाने के लिए सुबह खाली पेट व रात में सोने से पहले 1 -1 इलायची चबाये उसके थोडा हल्का गर्म अर्थात गुण गुना पानी पीये आराम महसूस होगा।


इलायची सेक्स क्षमता बढ़ाने के लिए

इस के लिए हमे एक ग्लास दूध,दो इलायची,और दो चम्मच शहद लेना है। इसके लिये दूध मे इलायची डाल कर उबाल लेंगे जब यह अच्छे से उबाल जाए तो इसमे शहद मिलकर रोज़ नियम से रात को सोते समय पी ले। यह बहुत कारगर उपाय है।

कील-मुंहासे से छुटकारा दिलाए इलायची

कहा जाता है कि जिन लोगों को कील मुंहासे की समस्या रहती हो उनको रोजाना रात को इलायची का सेवन करना चाहिए। सोने से पहले गर्म पानी के साथ एक इलायची खाने से स्किन संबंधित समस्याओं से राहत मिलेगी।

कुछ लोगों को ढेर सारा काम करने के बाद भी रात को नींद नहीं आती। सोने के लिए लोग दवाइयों को सहार लेते हैं जिसका शरीर पर गलत प्रभाव पड़ता है। 

नेचुरल तरीके से नींद लेने के लिए रोजाना रात को सोने से पहले इलायची को गर्म पानी के साथ खाएं। इससे नींद आएगी और खर्राटे की समस्या भी दूर हो जाएगी।

इलायची खाने से शारीरिक कमजोरी भी दूर होती है। इसको रोजाना आहार में शामिल करने से धीरे- धीरे आपका वजन बढ़ने लगेगा। आप इलायची पाउडर या इसको एेसी भी खा सकते हैं।

Uses of Elaichi

Elaichi Ke Fayde aur nuksan
image: Pixabay

छोटी इलायची माउथ फ्रेशनर होती है खाना खाने के बाद या मांश खाने के बाद छोटी इलयाची के दाने को चूसते रहने से मुख की दुर्गंध दूर हो जाती है।

तथा इलायची की सुगंध सबको अपनी ओर आकर्षित कर लेती है। छोटी इलायची का उपयोग मीठा में भी किया जाता है। जिससे की मीठा में स्वाद आता है।

बड़ी इलायची का उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में नहीं किया जाता इसका प्रयोग ज्यादा तर खाने की सामग्री में किया जाता है जो गरम मसाले में बड़ी इलायची की अहम भूमिका होता है। यह एक प्रकार का खड़ा मसाला माना जाता है।

इलायची को भोजन में डाल कर खाने से भोजन में स्वाद मिलता है तथा भोजन से सुगंध भी आती है, पाचन क्रिया भी सही ढंग से हो जाती है, मुख की दुर्गंध दूर होती है, एवं एमोनिया को दूर करती है।

Elaichi Ke Nuksan

इलायची के नुकसान (Cardamom side effects)

एलर्जी – लगातार इलायची खाना या ज्यादा मात्रा में इलायची खाने से शरीर में रिएक्शन होने लगता है| और फिर किसी भी तरह की एलर्जी होने लगती है, जिससे शरीर में खुजली, स्किन रेश, लाल धब्बे आ जाते है|

कई लोगों इलायची से एलर्जी का अनुमान नहीं होता और वे इसे खा लेते है जिससे उन्हें सांस में तकलीफ होने लगती है|

इस एलर्जी के कुछ लक्षण है –
सीने व गले में खिंचाव व दर्द
सांस लेने में परेशानी
जी मचलाना

पथरी – जी हाँ कई बार इलायची पथरी का कारण बन जाती है|

एक शोध के अनुसार पता चला है कि हमारा शरीर इलायची को पूरी तरह से पचा नहीं पाता है, फिर अत्यधिक मात्रा में इसे लेने से ये धीरे धीरे इक्कठे होते जाता है और गालब्लैडर स्टोन का कारण बन जाता है|

पथरी के रोगी को इलायची से परहेज करना चाहिए|

रिएक्शन – अगर आप किसी तरह की दवाइयां ले रहे है, तो कई बार इलायची इनके साथ रिएक्शन करके दूसरी परेशानी उत्पन्न कर देती है|

या कई बार आपको दवाइयों का असर बंद हो जायेगा| अगर आप कोई दवाई लेते है तो इलायची खाने की आदत आपको छोड़ देनी चाहिए|

इलायची के नुकसान पढ़कर आप घबराएँ नहीं, क्युकी इसके बहुत कम चांस होते है| बस इसकी आदत ना बनायें, एक सिमित मात्रा में ग्रहण करें|

आपको इलायची के फायदे व नुकसान कैसे लगे हमें कमेंट बॉक्स में शेयर करके जरुर बताएं|

Other posts: