badam ke fayde - बादाम के फायदे

बादाम के फायदे Benefits of Almonds : Badam ke Fayde तेज बुद्धि, सुन्दर चेहरा, स्वस्थ शरीर बनाये रखने के लिए Badam सेवन के लाभ निम्नलिखित हैं।बादाम वीर्यवर्द्धक होता है एवम शीघ्र पतन की प्रॉब्लम को दूर करता है।
badam-ke-fayde-benefits-of-almond-in-hindi
image: Pixabay

बादाम क्या है ? : What is Almond in Hindi

बादाम के पेड़ पर्वतीय क्षेत्रों में अधिक पाये जाते हैं। इसके तने मोटे होते हैं। इसके पत्ते लम्बे, चौडे़ और मुलायम होते हैं। इसके फल के अंदर की मींगी को बादाम कहते हैं।

बादाम के पेड़ एशिया में ईरान, ईराक, सउदी अरब, आदि देशों में अधिक मात्रा में पाये जाते हैं।

हमारे देश में जम्मू कश्मीर में इसके पेड़ पाये जाते हैं। इसका पेड़ बहुत बड़ा होता है।

बादाम की दो जातियां होती हैं एक कड़वी तथा दूसरी मीठी। बादाम पौष्टिक होती है। बादाम का तेल भी निकाला जाता है।

कड़वी बादाम हमें उपयोग में नहीं लानी चाहिए क्योंकि यह शरीर के लिए हानिकारक होती है।

Nutrients Found In Almonds in Hindi

ऑलमंड बादाम की एक औंस (28 ग्राम, या छोटी मुट्ठी) में निम्न तत्व होते है


  • फाइबर : 3.5 ग्राम
  • प्रोटीन: 6 ग्राम
  • वसा: 14 ग्राम (जिनमें से 9 मोनोअनसैचुरेटेड हैं)
  • विटामिन ई : आरडीए का 37%।
  • मैंगनीज़ : आरडीए का 32%
  • मैग्नीशियम : आरडीए का 20%


इसके आलावा बादाम के पास तांबा , विटामिन बी 2 (राइबोफ्लैविविन) और फास्फोरस की भी अच्छी मात्रा शामिल होती है।

बादाम एक बहुत लोकप्रिय ड्राई फ्रूट्स है। बादाम में स्वस्थ मोनोअनसैचुरेटेड वसा, फाइबर, प्रोटीन और विभिन्न महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में मौजूद होते हैं।

बादाम की छोटी-सी गिरी में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। बादाम के फल के अंदर जो बीज होता है उसे खाया जाता है।

अंडाकार का बादाम एक सिरे से नुकीला होता है।

इसका बीज सफेद रंग का होता है जिस पर भूरे रंग का पतला छिलका होता है।

कुछ घंटे पानी में भिगोने के बाद बादाम का छिलका उतर जाता है।

बादाम रोजेशी परिवार से संबंधित है जिसमें आडू ,
सेब, नाशपाती, चेरी और खुबानी भी शामिल है।

मध्य एशिया और चीन में बादाम की उत्पत्ति मानी जाती है।

संयुक्त राज्य में सबसे ज्यादा बादाम का उत्पादन किया जाता है और इसके बाद स्पेन एवं ईरान का नाम आता है।

भारत में जम्मू–कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा बादाम का उत्पादन होता है।


बादाम के फायदे Benefits of Almonds

badam-ke-fayde-benefits-of-almond-in-hindi
image: Pixabay

पाचन बढाता है

जब बादाम को भिगोकर खाया जाता है तो यह आसानी से पच जाता है और पाचन की सम्पूर्ण क्रिया को सुचारू रूप से चलाता है और पेट को स्वस्थ रखता है।

प्रेगनेंसी के लिए अच्छा होता है

गर्भवती महिलाओं को भीगे बादाम का सेवन जरुर करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें और उनके होने वाले बच्चे को पूरा न्यूट्रीशन मिलता है जिससे दोनों स्वस्थ रहते हैं।

वजन कम करे

एक शोध के अनुसार जो लोग बादाम खाते है, उनका वजन जो नहीं खाते है उनके मुकाबले कम होता है|

आपको बादाम अपनी डाइट में शामिल करना ही चाइये जिससे शरीर में fat नहीं जमता|
(also read: weight loss tips in Hindi)

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये

रोजमर्रा की छोटी मोटी बीमारी जैसे सर्दी जुखाम, खांसी, viral फीवर से बचने के लिए आपको बादाम खाना शुरू करना चाइये|

बादाम खाने से हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढती है जिससे ये छोटी छोटी बीमारी जल्दी हमारे शरीर पर अपना असर नहीं दिखा पाती|

अगर आपको कफ हो गया है तो गर्म दूध में कुछ बूँदें बादाम के तेल की डालें और इसे पीयें, कफ़ की समस्या दूर हो जाएगी|

बादाम के फायदे हड्डियों और दाँत को मजबूत करें

पोषक तत्वों का बेहतर स्रोत होने के साथ बादाम
कैल्शियम (Ca)और फास्फोरस (P) जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों का एक बेहतर स्रोत है, हड्डियों और दांत को मजबूत बनाने के लिए इन तत्वों की आवश्यकता पड़ती है।

जिससे ऑस्टियोपोरोसिस से होनी बाली समस्या से बचाव किया जा सकता है, हर दिन बादाम खाने के लाभ हड्डी के घनत्व और और कंकाल प्रणाली को मजबूती प्रदान करते हैं।

Badam Ke Fayde in Hindi - Almond Benefits in Hindi

बादाम खाने के फायदे तेज़ दिमाग के लिए

यह बादाम की वो खुबी है जिससे बच्चा-बच्चा वाकिफ है। दिमाग के स्वास्थ्य के लिए बादाम की गुणवत्ता को देखते हुए, इसे दिमाग के लिए "सर्वोत्तम आहार" माना जाता है।

इसमें मौजूद विटामिन ई ना केवल दिमाग की सतर्कता को बढ़ाता है बल्कि संज्ञानात्मक गिरावट (cognitive decline) को रोकने में भी मदद करता है साथ ही आपकी याददाश्त को भी बरकरार रखता है।

यही नहीं, बादाम में ज़िंक (zinc) भी भरपूर माता में होता है जो दिमाग की कोशिकाओं (brain cells) को हानिकारक आक्रमणों से बचाता है और इसमें पाया जाने वाला विटामिन बी-6 दिमाग की कोशिकाओं की मरम्मत करने में सहायता करता है।

फेनिलएलनिन पार्किंसंस रोग (Parkinson's disease) को रोकने में और डोपामाइन (dopamine) और एड्रेनालाईन (adrenaline) जैसे मस्तिष्क के रसायनों (brain chemicals) के उत्पादन में मदद करता है।

यह रसायन ध्यान और स्मृति के लिए महत्वपूर्ण होते हैं।

तो रोज़ाना एक मुट्ठी बादाम खायें और अपने दिमाग की तीव्रता को बढाएं।

प्रत्येक दिन तीन चार बादाम खाने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियत्रण में रहता है। साथ हे ब्लड शुगर को भी बढ़ने नहीं देता है।

हकलाना, तुतलाना

रोजाना रात को 5 बादाम भिगोकर फिर छीलकर और पीसकर 25 ग्राम मक्खन मिलाकर कुछ महीने तक लगातार सेवन करने से हकलाना व तुतलाना ठीक हो जाता है।

साथ ही रोगी को धीरे-धीरे बोलने तथा बिना घबराहट के बोलने की कोशिश भी करनी चाहिए।

बादाम की 10 गिरी और कालीमिर्च को लेकर बहुत बारीक पीसकर मिलाकर चाटना भी तुतलाने व हकलाने में लाभकारी होता है।

रोजाना 5 से 6 बादाम पानी में भिगोकर रख दें।

बादाम के फूल जाने पर छिलका उतारकर इसकी गिरी को पीस लें और इसकी 25 से 30 ग्राम मात्रा को मक्खन में मिलाकर खायें।

कुछ महीनों तक इसका सेवन करने से तुतलापन ठीक हो जाता है।

स्किन के लिए फायदेमंद

बादाम हमारी स्किन के लिए भी बहुत अच्छा है, इसके कुछ तरीके-

डार्क सर्कल कम करने के लिए रोज रात को सोने से पहले बादाम का तेल आँखों के चारों ओर लगायें, कुछ ही हफ्ते में ये गायब हो जायेंगे|

अगर आप अपनी रंगत निखारना चाहते है तो बादाम खाना शुरू करिए|

धुप में हुई टैनिंग से हाथ पैर चेहरा काला पड़ जाता है|

आप बादाम खाना शुरू करिए रंगत में फर्क खुद समझ आएगा|

ठण्ड में स्किन रुखी सुखी होने लगती है इसके लिए आप रोजाना बादाम का तेल सोने से पहले लगायें, आपकी स्किन चमकदार, मुलायम सुंदर हो जाएगी|

बाल झड़ने की समस्या भी दूर होती है

बालों को सॉफ्ट मजबूत घना बनाने के लिए बादाम का तेल इस्तेमाल करें|

नहाने के 1 घंटे पहले मालिश करें इससे आपके बालों की जड़ें भी मजबूत होंगी और सिरदर्द भी दूर होगा|
(also read: Balo ka jhadna kaise roke)

रात के समय पानी में भिगो कर रखे हुए almonds की पेस्ट दूध के साथ बनाएं और इसे आधा घंटा अपने फेस पर लगा कर रखें, फेस मास्क आपको कुछ ही दिनों में त्वचा गोरी निखरी बेदाग दिखाई देगी।


Badam Khane Ke Fayde in Hindi

अधिकतर लोग कच्चे बादाम खाते हैं लेकिन आप इसे अलग-अलग तरह के व्यंजनों में डालकर भी खा सकते हैं।

मध्य पूर्व में बादाम से मिठाई और स्नैक्स बनाए जाते थे और अब तो इसे कॉफी में भी डाला जाता है।

केक, कुकीज, नोगट, कैंडीज, स्नैक बार के साथ-साथ डेजर्ट पर टॉपिंग के लिए भी बादाम का इस्तेमाल किया जाता है।

बादाम से मक्खन, दूध और तेल भी तैयार होता है।

बादाम के सेहत को कई फायदे मिलते हैं। इसमें प्रोटीन, मिनरल्स, विटामिंस और फाइबर्स होता है।

बादाम कोलेस्ट्रोल को कम करता है और कार्डियोवस्कुलर रोगों एवं कैंसर को रोकने में मदद करता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए बादाम बहुत बढिया स्नैक्स हैं।

दिल का दौरा आने का खतरा कम करे एक रिसर्च के अनुसार जो कोई व्यक्ति हफ्ते में 5 दिन बादाम खाता है, उसे दिल का दौरा आने का खतरा 50% तक कम हो जाता है|

दिल से जुडी बीमारी कम करे बादाम खाने से दिल से जुड़ी बीमारी होने का खतरा बहुत कम हो जाता है|

आंखों के सभी प्रकार के रोग

आंखों से पानी गिरना, आंखें आना, आंखों की दुर्बलता, आंखों का थकना आदि रोगों में बादाम को भिगोकर सुबह के समय पीसकर पानी मिलाकर पी जाएं तथा ऊपर से दूध पीने से लाभ होता है।

पीलिया

6 बादाम, 3 छोटी इलायची और 20 छुहारे लेकर रात के समय मिट्टी के कुल्हड़ में भिगो दें तथा सुबह के समय इन सबको बारीक पीसकर इसमें 70 ग्राम मिश्री, 50 ग्राम मक्खन मिलाकर चाटने से पीलिया के रोग में लाभ मिलता है।

इस प्रयोग के करने से तीसरे दिन ही पेशाब साफ आने लग जाएगा।

Badam Tel Ke Fayde - Almond oil Benefits

badam-ke-fayde-benefits-of-almond-in-hindi
image: Pixabay

Almond Oil Benefits बादाम का तेल कच्चे बादामों से ही निकाला जाता है। बादाम के तेल में पर्याप्त मात्रा में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड के साथ ही विटामिन ई एवं पोटैशियम, प्रोटीन और जिंक भारी मात्रा में पाए जाते हैं।

अन्य तेलों की अपेक्षा हल्का होने के कारण बादाम के तेल का इस्तेमाल रसोई में भी किया जाता है।

इस आर्टिकल में हम आपको बादाम तेल के फायदे एवं बादाम तेल के उपयोग के विषय में बताएंगे।

बादाम खाने में मीठा और तीखा दोनों तरह का होता है।

आपको बता दें कि मीठा वाला बादाम खाने में इस्तेमाल किया जाता है और तीखा वाला बादाम तेल बनाने में इस्तेमाल किया जाता है।

बादाम में अधिक मात्रा में न्यूट्रीशन और मिनरल्स पाए जाते हैं जैसे प्रोटीन, ओमेगा 3 फैटी एसिड, ओमेगा 6 फैटी एसिड, विटामिन E, कैल्शियम और फॉस्फोरस आदि ज्यादा मात्रा में होते हैं।

कमजोर हृदय और बढ़े हुए कोलेस्ट्राल के लिए बादाम का तेल बहुत लाभकारी होता है।

बादाम के तेल का सेवन कोलेस्ट्रॉल कम करता है जिससे दिल के दौरे या हार्ट स्ट्रोक का खतरा बहुत कम हो जाता है।

अगर किसी व्यक्ति के आंखों के नीचे डार्क सर्कल पड़ जाते हैं तो वह देखने में काफी भद्दे लगते हैं।

इस परिस्थिति में आपको आंखों के नीचे बादाम का तेल लगाकर हल्के हाथों से मसाज करना चाहिए।

बादाम के तेल में विटामिन ई पाया जाता है जो त्वचा की मरम्मत करता है और नियमित रूप से मसाज करने पर डार्क सर्कल को दूर कर देता है।

इसके अलावा यह तेल झुर्रियों को खत्म करने के लिए उपयोग में लाया जाता है।

बालों से रूसी को दूर करने और बालों का झड़ना रोकने के लिए बादाम के तेल से मालिश करना बहुत ही अच्छा होता है।

इसके अलावा बादाम का तेल दो मुँहे बालों की समस्या को भी दूर करने में सहायक है।

बादाम के तेल से बाल काले , लंबे और चमकदार बनते हैं। बादाम का तेल एक कंडीशनर के रूवप में काम करता है।

फटे हुए होठों के लिए लिप बाम की जगह बादाम के तेल का उपयोग करना चाहिए।

1 चम्मच शहद में 5-6 बूंद बादाम तेल की अच्छी तरह से मिला लें और एक लीप बाम के रूप में प्रयोग करें। इस घरेलू उपाय से होंठो का फटना कम हो जाता है और होंठो में गुलाबी चमक आती है।

इसके अलावा होठों का कालापन दूर करने के लिए भी आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

बादाम का तेल त्वचा संबंधी बीमारियों एवं संक्रमण जैसे मुंहासे , सोरायसिस और एक्जिमा के इलाज में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

यह त्वचा की जलन एवं खुजलाहट को कम करके त्वचा को आराम देता है।

यह तेल एक विलेपन के रूप में काम करता है और यह त्वचा को ठंडक प्रदान करता है।

इसमें मॉश्चराइजिंग गुण भी पाया जाता है जो त्वचा को नमी प्रदान कर एक्जिमा और सोरायसिस जैसी बीमारियों को दूर करने में सहायक होता है।

कब्ज को दूर करने में भी बादाम के तेल का उपयोग में लाया जाता है।

गुनगुने पानी में बादाम के तेल की कुछ बूंदे मिलाकर दिन में दो बार पीने से कब्ज क्षण भर में दूर हो जाता है।

इसके अलावा बादाम का तेल पेट भी ठीक रखता है और भोजन की अच्छी तरह से पचाने में मदद करता है।

इसके अलावा गर्म दूध में बादाम तेल की कुछ बूंदे मिलाकर पीने से वजन भी तेजी से कम होता है।

बादाम मोनोअनसैचुरेटेड फैट से भरपूर होता है जो मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है जिससे वजन घटने में सहायता मिलती है।

बादाम तेल के फायदे व उपयोग : Badam Tel Ke Upyog

1. बादाम का तेल पुरुषों की पौरुष शक्ति में वृद्धि होती है।

2. बादाम का तेल दिमाग के सभी रोगों को दूर करके उसे मजबूत बनाता है।

3. बादाम के तेल से चेहरा सुन्दर और चमकदार हो जाता है।

4. बादाम का तेल प्रमेह उत्पन्न करता है एवं शीतलता प्रदान करता है।

Badam Rogan Ke Fayde

इसके इतने फ़ायदे हैं,जिन्हें आप जानने के बाद हैरान हो जाएंगे.

आम बोलचाल की भाषा में कहे तो, बादाम रोगन को कुछ तकनीकि प्रकरणों द्वारा बादाम से निकाला जाता है.

इन प्रकरणों से तेल को इस्तेमाल करना आसान तो हो जाता है,साथ ही इसकी गुणवत्ता बढ़ जाती है .

बादाम में ४४ प्रतिसत तक तेल मौजूद रहता है. इस तेल में कई तरह के विटामिन और मिनरल्स मौजूद रहते है , जैसे विटामिन-ए, विटामिन – डी , विटामिन -इ इत्यादि .

चिकित्सक इसे एक शक्तिशाली टॉनिक के रूप में अपने मरीजों से इस्तेमाल करने को कहते हैं.

कोई बादाम को सीधा ही ग्रहण करता है तो कोई उसे रातभर भिगोकर सुबह खाने में विश्वास करता है।

दरअसल इस तरीकों को अपनाने के पीछे खास कारण है।

यदि बादाम को रातभर भिगोकर सुबह उसका छिलका उतार कर खाया जाए, तो उसमें मौजूद गरम तासीर वाला तत्व नष्ट हो जाता है।

यह उपाय उन लोगों के लिए लाभदायक है जिन्हें गर्म चीजों से परहेज करने को कहा जाता है।

क्योंकि ऐसे लोगों के लिए एक या दो बादाम सीधा ग्रहण कर लेना किसी जहर से कम नहीं होता। यह बादाम उनके पेट में भूचाल ला सकता है।

बादाम का तेल या आम बोलचाल की भाषा में जिसे हम बादाम रोगन कहते हैं, इसके सीधा बादाम खाने की तुलना में कई अधिक फायदे हैं।

जो लोग बादाम रोगन इस्तेमाल करते हैं और इसके चमत्कारी प्रभाव से वाकिफ हैं ये बादाम रोगन के गुण और फायदे अच्छे-से जानते हैं।

इसमें एंटी एजिंग प्रॉपर्टी है जो हमारी झुर्रियों को दूर करके हमें यंग रखता है.

यह डेड सेल्स को दूर करके हमारी स्किन को चमकदार रखता है. बादाम तेल हमें रुखी सूखी और Skin Irritated से भी बचाता है.

सुंदर दिखने के लिए अक्सर स्त्रियाँ बाजार में Beauty creams तलाशती हैं लेकिन ये creams हमें थोड़ी देर के लिए सुंदर बनाती हैं और इनके साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं.

तो क्यों ना हम कुदरत के इस नायाब तोहफे को इस्तेमाल कर हमारी सुन्दरता को निखारें.

Laung Ke fayde- Benefits of cloves in Hindi

Elaichi Ke Fayde aur nuksan

Jaiphal ke fayde aur nuksan

Bay leaf benefits in Hindi