विटामिन सी के फायदे और नुकसान - Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

विटामिन सी के फायदे और नुकसान - Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

विटामिन-सी त्वचा के लिए बहुत खास होता है। त्वचा की रंगत निखारने से लेकर दाग-धब्बों से छुटकारा दिलवाने और यहां तक कि चोट आदि के निशान को भी हल्का करने में यह काफी उपयोगी साबित होता है।
विटामिन-सी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना इस विटामिन-सी के फायदे हासिल करने का सबसे आसान और प्रभावी तरीका है। 
संतरा, किवी, टमाटर, हरा सेब, नींबू और केला आदि विटामिन-सी के अच्छे स्रोत हैं। 
इसके अलावा इस विटामिन को अपने ब्यूटी रूटीन में शामिल करने के लिए आप विटामिन-सी युक्त क्रीम का इस्तेमाल कर सकती हैं। एल-एस्कॉर्बिक एसिड के रूप में यह स्किन केयर प्रोडक्ट्स में पाया जाता है। 
इसके अलावा बाजार में विटामिन-सी वाला सीरम, पाउडर, लोशन, क्रीम और मास्क भी उपलब्ध है।  विशेषज्ञ भी त्वचा से जुड़ी परेशानियों के निदान के लिए इसे इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। 
शुरुआत में हमेशा कम मात्रा में विटामिन-सी युक्त प्रोडक्ट्स का त्वचा पर इस्तेमाल करें, क्योंकि इस विटामिन को ग्रहण करने की त्वचा की क्षमता में धीरे-धीरे इजाफा होता है।
विटामिन-सी का इस्तेमाल त्वचा पर सुबह या रात में करें।
दोपहर में इसका इस्तेमाल करने से बचें क्योंकि विटामिन-सी त्वचा को सूरज की किरणों के प्रति ज्यादा संवेदनशील बना देता है। 

विटामिन सी क्‍या है?

Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

विटामिन सी पानी में घुलने वाला विटामिन है जो कि प्राकृतिक रूप से कुछ खाद्य पदार्थों जैसे कि संतरे और नींबू में पाया जाता है।

विटामिन सी को आहार पूरक (सप्‍लीमेंट) के रूप में भी लिया जा सकता है।

विटामिन सी को एल-एस्‍कॉर्बिक अम्‍ल भी कहा जाता है एवं शरीर में विटामिन सी अपने आप नहीं बन पाता है इसलिए आहार के ज़रिए ही शरीर में इसकी पूर्ति की जाती है।

इसके अनेक फायदे होते हैं और ये शरीर के सामान्‍य कार्यों में भी मदद करता है। विटामिन सी कोलाजन फाइबर के लिए जैव संश्‍लेषण का काम करता है।

क्‍या है कोलाजन फाइबर / C fibre?


कोलाजन, संयोजक ऊतकों में प्रमुख संरचनात्‍मक प्रोटीन है। ये हमारे शरीर में प्रोटीन की कुल जरूरत का 25 से 35 प्रतिशत हिस्‍से का निर्माण करता है।

ये हड्डियों, कार्टिलेज, टेंडन, त्‍वचा, लिगामेंट और संयोजी ऊतकों की परत का प्रमुख घटक है। इससे त्‍वचा को मजबूती और लचीलापन मिलता है।

बढ़ती उम्र के साथ त्‍वचा अपना लचीलापन और मजबूती खोने लगती है।

कुल 28 प्रकार के कोलाजन फाइबर्स का पता चला है कि लेकिन मानव शरीर में मौजूद 90 प्रतिशत कोलाजन केवल टाइप 1 का ही होता है।

चूंकि, विटामिन सी कोलाजन फाइबर बनाने में मदद करता है इसलिए घावको भरने, ठीक होने और ऊतकों के सुधार में यह अहम भूमिका निभाता है।

यह विटामिन ई की तरह शरीर में अन्य एंटीऑक्सीडेंटके कार्य को बढ़ाने वाला एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान को कम करता है।

भोजन से मिलने वाले नॉन-हेम आयरन (आसानी से अवशोषित न होने वाला आयरन) के अवशोषण में भी सुधार लाता है। इसके अलावा विटामिन सी रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार लाने में भी अहम भूमिका निभाता है।

विटामिन सी के सोर्स (Sources of Vitamin C)

Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

शरीर में विटामिन सी की पूर्ति के लिए मेहनत की जरूरत नहीं होती। यह रोजमर्रा के खान-पीन से पूरा हो जाता है। जो लोग अधिक स्ट्रिक्ट डाइट करते हैं, उनमें इसकी कमी भी देखी जाती है।

पकी हुई सब्जियों के मुकाबले कच्ची सब्जी और फल खाने से विटामिन सी की अधिक मात्रा मिलती है। दरअसल पानी में सब्जी पकाने से विटामिन सी की मात्रा कम हो जाता है।

Also Read: Benefits of vitamin a in hindi

खट्टे फल, टमाटर, आलू, लाल मिर्च, संतरा, स्ट्रॉबेरी और पालक आदि विटामिन सी के अच्छे सोर्स हैं।

यदि किसी में विटामिन सी की कमी है तो उसे लिमसी (limcee) या फिर सेलिन (celin) टैबलेट खाने की सलाह दी जाती है।

विटामिन सी के फायदे (Benefits Of Vitamin C)


विटामिन-सी स्वास्थ्य के लिए अन्य विटामिन्स की तुलना में कई गुना ज्यादा जरूरी है।

विटामिन-सी हमारी सेहत के साथ-साथ सौंदर्य व त्वचा के लिए भी महत्वपूर्ण है, यह तो आप जानते ही होंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं विटामिन सी के स्वास्थ्य लाभ? जरूर जानिए -

1 कैंसर से बचाव - विटामिन-सी एक बेहतरीन एंटी ऑक्सीडेंट है जो कैंसर और अन्य बीमारियां पैदा करने वाली फ्री रेडिकल्स से बचाता है।

इसके अलावा यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कैंसर से लड़ने में भी मददगार साबित होता है। वहीं कोशिकाओं और डीएनए में होने वाले उस परिवर्तन से भी बचाव करता है तो कैंसर पैदा कर सकता है।

2  हृदय रोग - विटामिन सी का एक बेहतरीन लाभ यह है कि इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट तत्व हार्ट के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं और हृदय की समस्याओं से बचाने में कारगर हैं।

यह धमनियों को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है और रक्त कोशिकाओं में कोलेस्ट्रॉल को जमने से रोकता है जिससे हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा कम होता है।

यह कोशिकाओं में रक्त के बहाव को सामान्य बनाए रखता है।

3. जख्म भरना - विटामिन सी में एक बेहतरीन हीलिंग पावर होता है, जो त्वचा के घाव जल्दी भरने में बेहद मददगार साबित होता है।

प्रतिरोध क्षमता कम होने की स्थ‍िति में भी यह संक्रमण फैलने और बीमारियों से बचाव में सहायक होता है। यही कारक है कि डॉक्टर्स भी शरीर किे जख्मों को भरने के लिए विटामिन-सी सप्लीमेंट लेने की सलाह देते हैं।

4. विटामिन सी ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार है। हाई ब्लड प्रेशर के कारण हार्ट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं, जो कि मौत का बड़ा कारण होता है।

स्टडी के मुताबिक विटामिन सी ब्लड बेसिल्स (blood vessels) को रिलेक्स करता है, जिससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है।

5. विटामिन सी की कमी से आपको अस्थमा हो सकता है।

दरअसल,  विटामिन सी शरीर में अस्थमा के लिए जिम्मेदार हिस्टामाइन के उत्पादन को कम करता है और अस्थमा एवं सांस संबंधी समस्या के जोखिम को कम करता है।

ऐसे में शरीर में विटामिन सी की कमी न होने दें। विटामिन सी की कमी से एलर्जी और तनाव की समस्या भी हो सकती है। जोड़ों में दर्द की समस्या हो सकती है।

6. विटामिन-सी के लिए आंवला और संतरे का सेवन करें। चौलाई की सब्जी खाएं।

शिमला मिर्च का सेवन भी शरीर में विटामिन सी की कमी को पूरा करने का सबसे अच्छा जरिया है। आप मुनक्का खाएं। मुनक्के में विटामिन सी की काफी अधिक मात्रा होती है।

7. त्वचा की बनावट को सुधारता है Vitamin C benefits for skin in Hindi

Vitamin C Benefits and Side Effects in Hindi

विटामिन C युक्त क्रीम त्वचा की दिखावट और बनावट को सुधारती है।

आंवले, संतरे में पाया जाने वाला ये विटामिन सांवला बनाने वाले मिलैनिन पिगमैंट pigment को कम करता है।


विटामिन सी की अधिकता के नुकसान (Vitamin C side effects)


विटामिन सी की बहुत अधिक मात्रा होने पर पेट में जलन हो सकती है।

इसका मतलब यह हुआ कि आप जिस मात्रा में विटामिन सी ले रहे हैं, शरीर उसे अब्जॉर्ब नहीं कर रहा है। इससे आपको दस्त (diarrhea) भी लग सकते हैं।

Also read: Ajwain benefits for skin and health

यदि आप विटामिन सी के सप्लीमेंट अधिक यूज करते हैं तो आपको किडनी स्टोन / पथरी (kidney stone) की समस्या हो सकती है।

विटामिन सी लेने से पहले डॉक्टर से बात करनी चाहिए, क्योंकि विटामिन सी के हाई लेवल से शरीर के टिश्यूज डैमेज (tissue damage) हो सकते हैं।

विटामिन सी की कमी (Vitamin C Deficiency) 


अक्सर सर्दी जुकाम होना, कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता, थकावट, अचानक वजन कम होना, ड्राई बाल होना, बालों का गिरना, त्वचा की असमान रंगत, घाव का धीरे भरना व दांत संबंधी समस्याएं, विटामिन सी की कमी के लक्षण माने जाते हैं।

विटामिन सी अन्य पोषक तत्वों जैसे विटामिन ए व आयरन के साथ मिलकर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और शरीर को स्वस्थ बनाए रखता है।

Also read: Pomegrante benefits for skin and health

विटामिन सी घुलनशील होता है इसलिए अतिरिक्त पोषक तत्व आसानी से पेशाब के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाते हैं।

निष्कर्ष (Conclusion) : 
इस आर्टिकल के आधार पर आप समझ गए होंगे कि विटामिन सी शरीर के लिए कितना फायदेमंद है। सप्लीमेंट आदि के सेवन के लिए आप किसी डॉक्टर से भी परामर्श कर सकते हैं।

आशा है आपको ये पोस्ट Vitamin C ke fayde vitamin C benefits in hindi पसंद आया. अपने comments हमें ज़रूर दे